Google search engine

Web Designing क्या है और web designing meaning हिंदी में

web designing kya hai or kaise kare

आप घर बैठे-बैठे web designing क्या है और इसके बारे सीख सकते है बस आपको इस article को पूरा पढ़ने की जरुरत है. कैसे हम अपने घर में बैठ कर अपने mobile या laptop पर news पढ़ते है कैसे आप अपने पसंद के कपड़ो तथा सामानों को चुनते है कैसे आप Internet पर कोई blog या article पढ़ते है.

और कैसे किसी train की टिकट बुक करते है यह सब website designing के कारण संभव है जिसके लिए हमें एक website बनाने की जरुरत होती है. कोई व्यक्ति Html, CSS, Javascript और Jqauery का इस्तेमाल कर इसका निर्माण करता है उसे web designing कहा जाता है.

web designing का हिंदी में मतलब किसी व्यक्ति द्वारा color, font, text, image का इस्तेमाल कर किसी website का निर्माण करना है जो व्यक्ति इसे बनाता है उसे web designer कहा जाता है.

Web designer कैसे बने और web designing क्या है हिंदी में

अगर आपको web designer बनना है इसके लिए सबसे पहले आपको html क्या है और CSS क्या है के बारे में जानकारी होनी चाहिए अगर आपको इसकी जानकारी नहीं है तो आप website नहीं बना सकते है Internet पर जितनी भी website है.

वह html, CSS से मिलकर बनी हुई है web designer का काम website के अलावा client (ग्राहकों) की जरूरतों को समझना होता है जो अपने देश के client के अलावा बाहर देश के client के लिए काम करते है.

कोई भी व्यक्ति website बनाने के लिए किस IT (Information Technology), Freelancer या web designer से संपर्क करता है. आप भी web designing का काम सीखकर किसी भी company के लिए काम कर सकते है लेकिन web designer बनने के सबसे पहले course करने की जरुरत होती है.

Web designing course और fees हिंदी में

Web designing का course हम किसी College या Institute को join करके कर सकते हैं या हम खुद से online पढ़ के सीख सकते हैं. अगर आपको web design का course किसी college से करते हैं तो आपको किसी भी स्ट्रीम में 50% अंको के साथ 12वी पास होना जरुरी हैं web designing में जो top के college हैं जहा से आप course कर सकते हैं –

National Institute of design (Ahmedabad), Delhi college of Art (Delhi) और Amity school of fine Arts (Noida) जहा 2 से 3 साल के लिए पूरे course की fees 3 से 4 लाख तक होती हैं.

आप अगर web designing का course किसी Institute से करते हैं तो आपको इसके लिए किसी भी स्ट्रीम में 50% अंको के साथ 12वी पास होना जरुरी हैं web designing के जो top के Institute हैं जहा से आप Certificate course कर सकते हैं –

Arena Animation (Noida, Delhi, Mumbai), MAAC (Delhi, Noida, Mumbai) और National Institute of Design (Ahmedabad) जहाँ पर 6 महीने से 1 साल के लिए पूरे course की fees 50 हज़ार से 1 लाख तक होती हैं. अगर आपके पास पैसे कम हैं तो आप अपने आप पास किसी छोटे Institute से भी certificate course कर सकते हैं.

Note – अगर आप किसी Institute में admission लेते हैं तो पूरे course की fees एक साथ जमा न करें कभी भी fees को installment में दें यानि की हर 1 या 2 महीने में थोड़ा थोड़ा करके दें. ऐसा इसलिए अगर आप installment में fees देते हैं Institute की आप पर जिम्मेवारी बनी रहती हैं अगर एक साथ जमा कर देते हैं आपके course पूरा कराने की संभावना कम रहती हैं ऐसा मेरा अनुभव हैं.

web designing free online course हिंदी में

अगर आप खुद से online घर बैठे web designing का course सीखना चाहते हो तो सबसे अच्छी website w3schools.com हैं जहाँ से आप free में html, CSS की जानकारी free में basic से advance level तक सीख सकते हैं. और यहाँ पर Bootstrap, Javascript, Jquery, Php Angular, React, Python आदि course को सीख सकते हैं.

इसके अलावा आप online blog पढ़कर, youtube से, web designing की book पढ़कर और udemy से free में सीख सकते हैं.

Web designing job और web designing में career

किसी Institute में आप web designing का course करने जाते है तो आपको course के बाद 100% placement तथा 100% job की guarantee देती है तो मै आपको जानकारी के लिए बता दूँ कोई भी Institute 100% placement नहीं देता है job आपको खुद अपने दम पर ढूढ़नी पड़ती है. कोई भी company हो job आपको अपनी skill तथा आपके Interview के हिसाब से देती है.

अगर आप 10वी पास है और आपने किसी Institute से diploma course कर लिया उसके बाद आप किसी company में job के लिए जाते है तो आपको job नहीं मिलेगी क्योकि job के लिए कम से कम आपको 12वी पास होना जरुरी है.

web designing की job आप naukri.com, linkedin.com तथा upwork.com जैसी website पर account बनाकर अपने क्षेत्र में ढूँढ सकते है. जहाँ से आप job apply कर किसी भी company में Interview के लिए जा सकते है.

ध्यान रहे किसी भी company में Interview के लिए जाने से पहले उस company के बारे में Google में पूरा search कर तथा उसके review पढ़ कर जाना चाहिए ऐसा इसलिए हमे company के बारे में आधी जानकारी Internet से मिल जाती है और company कैसी है उसके बारे में पता चल जाता है.

Web designing की जानकारी और scope क्या है

कोई भी आदमी जो अपने business को बढ़ावा देना चाहता है तो उसके लिए सबसे अहम role web designer का होता है क्योकि हम website के द्वारा ही अपने business को दुनिया के सामने ला पाते है. अब आप अनुमान लगा सकते है की आगे web designing का scope बड़ता ही जाएगा रोज नया business खुलने के साथ-साथ web designing की demand भी बडती जा रही है और आपको Web Designing क्या है सीखना बहुत जरुरी है.

course करने के बाद आप किसी भी company में job के लिए apply कर सकते है अगर आप job नहीं करना चाहते है तो घर बैठे-बैठे freelancing का काम कर पैसे कमा सकते है. अगर web designing में अच्छा अनुभव प्राप्त हो गया है तो आप खुद की company खोल सकते है या Institute खोलकर पैसा कमा सकते है.

Web design salary in India और web designing क्या होता है हिंदी में

Course करने के बाद आप किसी company में job के लिए जाते है तो हमारे मन में यह सवाल रहता है कि हमे starting salary क्या मिलेगी. अगर बड़े शहरों जैसे – Delhi, Noida, Gurgaon, Mumbai, Bangolare जैसे शहर में job करते है तो आपको शुरुवात में salary 15 से 30 हज़ार के बीच में मिल जाती है अगर छोटे शहर जैसे – Agra, Lucknow, Dehradun जैसे शहर में job करते है तो आपको शुरुवात में salary 10 से 15 हज़ार के बीच में मिल जाती है.

Salary मिलना निर्भर करता है आपके skill, knowledge, qualification तथा आपके Interview पर बड़ी company में job के लिए हमे graduate होना जरुरी है क्योकि बड़ी company में सबसे पहले आपके qualification को देखा जाता है उसके बाद आपके skill के हिसाब से job मिलती है.

आप freelancing करते है तो आपको किसी तरह के qualification की जरुरत नहीं होती है जहा पर client आपके काम को देखकर काम और पैसा देता है.

Web designing की पूरी जानकारी और कैसे सीखे

website बनाने के लिए हमें web designing के साथ-साथ graphic designing की भी जानकारी होना बहुत जरुरी है जैसे हमें Photoshop, Illustrator तथा Sketch software पर काम करना आना चाहिए. हम अगर company में job करते है तो हमें html, CSS के साथ Photoshop, Illustrator पर भी काम करना पड़ता है.

webpage बनाने के लिए सबसे पहले webpage को Photoshop, Illustrator पर design करते है उसके बाद html, CSS code द्वारा webpage में बदलते है.

छोटी तथा कुछ medium level की company में आपको खुद ही graphic तथा web design करनी पडती है लेकिन बड़ी company में हर चीज के लिए अलग-अलग employee होते है जैसे – Graphic के लिए अलग, Web के लिए अलग, Frontend और Backend के लिए अलग.

अगर आपके पास Photoshop पर design किया हुआ एक page है और उसे code द्वारा website design करना चाहते है तो हम webpage को देखकर सही font-size, color, image size तथा font-family का पता नहीं लगा सकते है इसके लिए हम design किए हुए page को zeplin में page को upload करते है.

जिसके बाद हम किसी भी font-size, color code, image तथा page की alignment की CSS zeplin पर देख सकते है. बहुत लोग यह सोचते है Photoshop पर webpage बनाने के बाद अगर हम उसे सीधे Internet पर डाल दें और हमें इतना code लिखने कि जरुरत क्यों है?

हमें अगर Photoshop पर webpage design के बाद उसमे किसी button को activate, link activate या webpage responsive बनाना है तो उसके लिए हमें html CSS तथा development की जरुरत पडती है जिसके बाद ही हमारा page चलता है.

Web Designing क्या है, course, fees, job और salary के बारे में पूरी जानकारी दी गई है web designing से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए आप अपना कोई भी सवाल हमें नीचे पूछ सकते है.

jeewan.basera@gmail.comhttps://hindischool.net
Jeewan, मै hindischool.net का foundur हूँ मै एक professional web designer और graphic designer हूँ मुझे इस क्षेत्र में 4 साल का अनुभव है और यहाँ में अपने अनुभव को blog के जरिये लोगों के साथ शेयर करता हूँ मुझे हिंदी मै blog लिखना पसंद है, graphic और website से संबंधित किसी भी प्रकार की सहायता के लिए आप social media या comment के जरिए अपने सवाल पूछ सकते है.

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,570FansLike
3,432FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles